अनिल गुप्ता पीपलवाड़ा हत्याकांड: तीन आरोपी अभी भी है फरार

196

 

राजगढ़ गैंगवार मामला

 

सवाई माधोपुर न्यूज़ : बोंली ब्लाक के ग्राम पंचायत पीपलवाड़ा में हुए अनिल गुप्ता हत्याकांड के मामले में दो आरोपी को पुलिस गिरफ्तार कर चुके हैं। बाकी अभी तक तीन आरोपी फरार चल रहे आरोपी लेखराज मीणा पिता मीठा लाल मीणा निवासी बड़ागांव अभी फरार चल रहा है। गिरफ्तार हुए दो आरोपी ग्राम पंचायत बागडोली के गुडला चंदन गांव के हैं परशुराम मीणा पिता रामधन मीणा और दिलखुश मीणा पिता रामेश्वर प्रसाद मीना दोनों आरोपियों को 2 दिन के पीसी रिमांड पर भेज दिया गया।

मृतक के पिता पवन कुमार गुप्ता ने बड़ागांव सरवर निवासी लेखराज मीना, गुड़ला चन्दन निवासी परशुराम मीना व दिलखुश मीना सहित दो अज्ञात अन्य लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करवाया है। इस पर पुलिस ने दो नामजद आरोपी दिलखुश मीना व परशुराम मीना को गिरफ्तार भी किया हैं।

जब हमारी टीम ने पड़ताल की है तो पता चला क्या है माजरा
जब हमारी टीम ने पड़ताल की है। तो पता चला अनिल का भी कुछ व्यवहार खराब था। हमारे सूत्रों को पता चला है कि लेखराज और अनिल एक ही लड़की से प्यार करते थे। लेखराज ने अनिल से मना किया कि वो मेरी फ्रेंड है उससे बात मत किया कर सूत्रों से पता चला है कि घटना से 17 मिनट पहले उन्होंने आपस में बात की थी। और उसमें मरने मारने की बात सामने आई है ।

आपसी रंजिश रहा कारण  दुकानदार की हत्या के मामले में बड़ा गांव सरवर निवासी लेखराज मीना, गुड़ला चन्दन निवासी दिलखुश मीना व परशुराम मीना सहित दो अन्य के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। दो की गिरफ्तारी की जा चुकी है शेष के लिए टीम क्षेत्र में काम कर रही है। पीपलवाड़ा में अस्थायी पुलिस चौकी के आदेश कर दिए गए हैं। स्थाई पुलिस चौकी खोलने का प्रस्ताव भिजवाया जाएगा। प्रारंभिक जांच में आपसी रंजिश सामने आई है। –

राकेश राजोरिया, पुलिस उप अधीक्षक (ग्रामीण)

घटना को लेकर लोगों ने प्रदर्शन कर विरोध किया था। उन्होंने मृतक के परिजनों को 50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता, एक को सरकारी नौकरी व परिवार को सुरक्षा संबंधी मांग रखी थी। इनके प्रस्ताव बनाकर जिला कलेक्टर के माध्यम से राज्य सरकार को भिजवाया गया है। –

बद्रीनारायण मीना, एसडीएम, बौंली